Popads

Friday, 10 June 2016

बिहार बोर्ड के इम्तिहान में टॉप करने वाले छात्रों के लिए खास गाइडलाइंस

बिहार बोर्ड के इम्तिहान में टॉप करने वाले छात्रों के लिए खास गाइडलाइंस हैं. उनमें से कुछ गाइडलाइन हम आपको पढ़ने के लिए उपलब्ध करा रहे हैं.

1. जैसे ही किसी छात्र को पता चले कि उसने इम्तिहान में टॉप किया है पहला काम तो यही करे कि वो फौरन अंडरग्राउंड हो जाए, ताकि किसी भी सूरत में मीडिया उस तक पहुंच न पाए.

2. अगर मीडिया के लोग पहुंच भी जाएं तो उन्हें परिवार के किसी सदस्य, भाई बहन या माता पिता की ओर से जारी एक स्टेटमेंट थमा दिया जाए और हर किसी को उसी की कॉपी दी जाए.

3. इतना करने के बाद टॉपर छात्र को इंटरव्यू के लिए तैयार किया जाए जिसके लिए प्रोफेशनल हेल्प ली जाए तो बेहतर है. इंटरव्यू के मॉक सेशन काफी मददगार होते हैं उन्हें आजमाया जा सकता है.

4. जब तक तैयारी पूरी न हो टॉपर छात्र की ओर से उसके टीचर या घर का कोई सदस्य खुद प्रवक्ता की भूमिका अपना ले. इसके लिए किसी ट्रेनिंग की जरूरत नहीं है अगर कुछ ऊंच-नीच हो भी जाए तो उसे बाद में संभाला जा सकता है.

5. इंटरव्यू की तैयारी में सबसे पहले तो उस छात्र को ये बताया जाए कि उसने कौन सी क्लास में टॉप किया है. फिर उसे उसके सब्जेक्ट के बारे में अच्छे से समझा दिया जाए. अच्छे से समझाने का मतलब छात्र को कम से कम सब्जेक्ट का उच्चारण और अंग्रेजी में उसकी स्पेलिंग जरूर आनी चाहिए.

6. छात्र को बताया जाए कि इंटरव्यू के दौरान दो तीन बार वो 'गुड-क्वेश्चन...' जरूर बोले और हमेशा कैमरे की ओर ही देखे. पत्रकार से नजर तो बिलकुल न मिलाए, वरना, दबाव में आ सकता है.

7. तैयारी के दौरान छात्र को दो तीन सवाल ऐसे रटा दिये जाएं जो जवाब न सूझने पर सवाल की परवाह किये बगैर वो बोलता रहे. अगर पत्रकार कहे कि वो उसके सवाल का जवाब नहीं है तो भी उसकी परवाह किये बगैर छात्र अपनी बात पूरी करके ही दम ले.

8. छात्र को चाहिए कि हर सवाल के जवाब में वो शुरुआत 'वेल...' शब्द से करे - इससे उसे जवाब को लेकर सोचने का खासा मौका मिल जाएगा. उसके बाद दिक्कत होने पर 'यू नो, यू नो...' आजमाया हुआ कारगर नुस्खा है.

9. जब भी इंटरव्यू हो, कम से कम टीचर और छात्र के घर का कोई सदस्य जरूर मौजूद रहे और फंसने की हालत में वो उसकी तैयारियों, पढ़ाई के घंटों और सिर्फ पढ़ाई में ध्यान की बात करता रहे.

10. सबसे जरूरी बात, टॉपर छात्र किसी भी सूरत में लाइव इंटरव्यू के लिए राजी न हो. अगर लाइव के लिए राजी भी तो उसी स्थिति में जब उसके घर पर ओबी वैन लगाई जाए और सवाल स्टूडियो से पूछे जाएं. सवाल मुश्किल होने पर वो ऐसे पोज करे जैसे उसे सुनार्ई ही नहीं दे रहा हो. एंकर तकनीकी खराबी के नाम पर बातचीत रोक देगा - फिर तो झंझट खत्म ही समझो.
 

Jokes .... Hindi chutkule hansgulle

 पत्नी :
" मेरे लिए सिर्फ इतना करो,
जाओ, जाकर शेर का शिकार करो।
मुझे शेर की खाल अपने ड्रॉइंगरूम में
लगाना है। "
पति :
" अरे, ये कैसे संभव है ?
कोई दूसरा आसान काम बताओ। "
पत्नी :
" ठीक है,
तुम्हारे whatsapp के मैसेजेस दिखाओ। "
पति :
" शेर पट्टेदार चाहिए या सफ़ेद...?? "
.
.
.
.
कानपुर में कल पूरी रात बिजली आने से दहशत फैल गयी और लोग अपने-अपने घरों से बाहर निकल आये। किसी अनहोनी की आशंका के चलते लोगों ने पूरी रात जागकर काटी। छोटे-छोटे बच्चे आधी रात को अचानक इतनी रोशनी देखकर डर गये और अपनी माओं की गोद में दुबक गये।
शहर में आम तौर पर दो घंटे के लिये बिजली आती है और तीन घंटे के लिये जाती है। कल रात जब दो घंटे के बाद भी बिजली नहीं गयी तो लोगों ने सोचा कि बिजली काटने वाला कहीं चला गया होगा, दो-चार मिनट में चली जायेगी। लेकिन जब बिजली आये तीन घंटे से भी ज़्यादा हो गये तो लोगों को डर लगने लगा।
शहर के एक परिवार ने घर की सारी बत्तियां बुझा दी और लालटेन जला कर रात काटी।
इतनी भारी मात्रा में आयी बिजली की वजह से शहर में तरह-तरह की अफ़वाहें चलती रहीं। कुछ लोगों का कहना था कि शहर में ज़रूर कोई बड़ा भूकंप आने वाला है क्योंकि भूकंप से पहले इसी तरह की अजीबो-गरीब घटनाएं होती हैं।
इसके उलट काकादेव में रहने वाले आशु का कहना था कि "शायद सरकार को तरस आ गया और उसी ने हमें इतनी बिजली दे दी।"
बिजली से डरकर अपने घर के बाहर सुमित यह सुनते ही बोल पड़ा, "क्या बात कर रहे हो भाईसाब! सरकार अभी से इतनी बिजली क्यों देने लगी! चुनाव तो अभी दो साल दूर हैं।"
समाजवादी पार्टी के समर्थक इसे बीजेपी की चाल बता रहे हैं।
सपा के महानगर अध्यक्ष ............... का कहना है कि "बीजेपी के कुछ लोगों ने बिजली वालों के हाथ-पैर बांध दिये और उन्हें बिजली नहीं काटने दी, ताकि शहर का माहौल ख़राब हो जाये।"
वहीं, बीजेपी ने पलटवार करते हुए कहा है कि "राज्य के एक शहर में पूरी रात बिजली आती रही और पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी रही। जो सरकार लोगों को बिजली से ना बचा सके, उसे एक दिन भी सत्ता में रहने का हक़ नहीं है।"
इस बीच, सरकार ने पांच बिजलीघरों के जेई और लाइनमैनों को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया है।
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ख़ुद इस ख़बर को सुनकर सदमे में हैं। उन्हें यक़ीन नहीं हो रहा कि इटावा और सैफ़ई के अलावा कहीं और इतनी बिजली कैसे आ सकती है।
.
.
.
.
.
I daily observed a group of ladies sitting in the park Talking and Laughing Loudly.
One day I observed all the ladies were silent. There must be some Serious issue or Incident Happened.
So I went to a Lady and asked, "Why everybody is Silent Today?"
The Lady replied, "All Are Present Today."
It took me a whole minute to understand this. .
.
.
.
.
ट्रैफिक इंस्पेक्टर संता पंजाब हाईवे पर अकेले अपनी मोटरसाइकल पर बैठा था…!
तभी हरियाणा से आती हुयी एक कार ने बॉर्डर क्रॉस किया…!!
संता ने रुकने का इशारा किया…✋
और जब कार रुकी तो टहलता हुआ ड्राइवर की खिड़की पर दस्तक दिया…!
एक नवयुवक जो गाड़ी चला रहा था…
उसने शीशा नीचा कर सर बाहर निकाल कर पूछा:
"क्या बात है इंस्पेक्टर…?"
संता ने एक झापड़ उसके गाल पर रसीद किया…
युवक: "अरे, मारा क्यों…?"
संता: "जब पंजाब पुलिस का ट्रैफिक इंस्पेक्टर संता किसी गाड़ी को रुकने कहता है…
तो ड्राइवर को गाड़ी के कागजात अपने हाथ में रखा हुआ होना चाहिए…!"
युवक: "सारी इंस्पेक्टर…….
मैं पहली बार पंजाब आया हूँ….!"
फिर उसने ग्लव कंपार्टमेंट से पेपर्स निकाल कर दिखाये..!
संता ने पेपर्स का मुआयना किया फिर बोला:
"ठीक है….रख लो….!"
फिर घूमकर पैसेन्जर सीट की ओर गया और शीशा ठकठकाया…!!
पैसेन्जर सीट पर बैठा दूसरा युवक शीशा गिराकर सर बाहर निकाल कर पूछा :-
"हाँ बोलिए….?"
तड़ाक…!
एक झापड़ संता ने उसे भी मारा..!
"अरे ….! मैंने क्या किया …?"
संता: "ये तुम्हारी हेकड़ी उतारने के लिए…!"
युवक:- "पर मैंने तो कोई हेकड़ी नहीं दिखाई…?"
संता :- "अभी नहीं दिखाई, पर मैं जानता हूँ….
एक किलोमीटर आगे जाने के बाद तुम अपने दोस्त से कहते
"वो दो कौड़ी का इंस्पेक्टर मुझे मारा होता…. तो बताता….!" .
.
.
.
.
अभी प्लेन रनवे पर दौड़ ही रहा था कि... 
सरदार pilot को थप्पड़ मार के बोला.... 
"मुझे देर हो रही है...
और तू साला By Road जा रहा है ..."