Sunday, 14 August 2016

Jokes in Hindi ...... कुछ लोग इतने भयानक कुँआरे होते है,

 शादी के लिए 36 गुण मिलाने पड़ते हैं,
फिर भी इतना प्रेम नहीं होता,
-
लेकिन मित्रता में अगर तीन 'गुण',
( मुर्गा,  सिगरेट और दारु)
मिल गए तो कुछ घंटो में ही अटूट प्रेम हो जाता है...!!!.
.
.
.
 कुछ लोग इतने भयानक कुँआरे होते है,की ताश खेलते वक्त भी, उनके पत्तो में बेगम नहीं आती है.....
.
.
.
कुछ लोग तो नाक में ऊँगली डाल कर ऊँगली को ऐसे देखते हैं जैसे नाक से...
डायमंड निकला हो।.
.
.
.
.
 पति---" मेरी पत्नी खो गई है,
शॉपिंग के लिए गई थी, अभी तक नहीं लौटी। "
.
.इंस्पेक्टर---" पत्नी की हाइट कितनी है ?
"पति---" कभी चैक नहीं किया।
"इंस्पेक्टर---" स्लिम है कि, हैल्दी है ?
"पति---" स्लिम नहीं है, शायद हैल्दी है।
"इंस्पेक्टर---" आँखों का रंग ?
.
"पति---" कभी ध्यान नहीं दिया।
.
"इंस्पेक्टर---" बालों का रंग ?
.
"पति---" मौसम के हिसाब से बदलती रहती थी। "
इंस्पेक्टर---" वो क्या पहने थी ?
."पति---" कह नहीं सकता, शायद साड़ी या सलवार सूट। "
इंस्पेक्टर---" क्या ड्राइविंग करती गई ?
"पति---" हाँ, कार पर।
.
"इंस्पेक्टर---" कार का रंग ?
.
"पति---" ब्लैक ऑडी ए8 विद सुपरचार्ज्ड 3.0 लीटर वी6 इंजिन जनरेटिंग 333 हॉर्स पॉवर टीम्ड विद एन 8 स्पीड टिप्ट्रोनिक ऑटोमेटिक ट्रांसमीशन विद मैनुअल मोड, एण्ड इटहेज फुल एलइडी हेडलाइट्स विच यूज लाइट एमीटिंग डायोड्स फॉर आल लाइट फंक्शन्स एंड ए वेरी थिन स्क्रैच ऑन दि फ्रन्टलेफ्ट
डोर......................
.
...."( और फिर पति रोने लगा )
.
.
.इंस्पेक्टर---" डोंट वरी सर, हम आपकी कार ढूँढ लेंगे।। "
.
.
.
.
एक लड़की नई नई इंग्लिश सीख रही थी...
लड़की -जानू plz apple my new number...
लड़का :confused ..क्या... ?
लड़की :मेरा नंबर apple कर लो ना जल्दी
लड़का : अरे पर apple तो सेब होता है ...!!!.
लड़की :जानू में भी तो ये ही कह रही हु के मेरा नया नंबर seb कर लो...
लड़का बेहोश ..
Coaching institute: IIN.
.
.
.

आज का ज्ञान
अगर बारिश के मौसम मे आपकी कार कीचड़ मे
फस जाये तो.........
.
.
.
.
.
.
खुद ही धक्का लगा देना, निरमा वाली चार औरते (हेमा, रेखा,
जया और सूष्मा) के इंतजार मे बैठे मत रहना
.
.
.

चार शराबी एक जनाजे को उठाकर जल्दी- जल्दी  कब्रौ के  ऊपर से जा रहे थे! 
किसी ने कहा - ओए शर्म करो  नीचे  मुर्दे है!

शराबी -तो उपर कोनसा हमने वर्ल्ड  कप उठा रखा है!
.
.
.
.
Wife:-  देखो मैं इसे पिछले 7 साल से लगातार  पहन रही हूं
फिर भी इसकी फिटिंग वैसी की वैसी ही है, और तुम मुझे  मोटी कहते रहते हो
Husband:-  कुछ तो भगवान से डरा करो.......... 
ये शॉल है...... !!
.
.
.
.
पत्नियाँ दो तरीके की होती हैं:
पहली वो, जो पति की बात सुनती है, उसके विचारों को समझती है, उनसे प्यार से पेश आती है, कभी भी कोई फरमाइश नहीं करती। और तो और पति कितना भी गुस्सा करे वो मुस्कुराती रहती है।
और
दूसरी वो, जो सबके पास है।
.
.
.
.
खाया तो बहुत होगा. पर बताने में लजाते हैं. कुछ की बुद्धि खुलती है बादाम खा के कुछ की थप्पड़ खा के. बिना थप्पड़ खाए महसूसिए थप्पड़ का स्वाद और थप्पड़ के दस अलग-अलग फ्लेवर.
1. झापड़
झापड़ थप्पड़ का वो रूप है जो मारा ही इस उद्देश्य से जाए कि सामने वाला कल्ला जाए. नैना से तरैना चू पड़े और आवाज भारी हो जाए. झापड़ की ख़ास बात कि वो रसीद किया जाता है.
2. फोहा
फोहा अपमानित करता है. हतप्रभ कर जाता है. आपने सोचा भी न हो और फ़ो से पड़ जाए. फोहा का मूल ही उसके शॉकिंग एलीमेंट में छिपा है.
3. चमाट
चमाट देना होता है. अक्सर चमाट दी नहीं जाती कहा जाता है कि अभी देंगे. चमाट चेतावनी है. चमाट का नाम आए तो समझिए सुधार की गुंजाइश है.
4. तमाचा
तमाचा जब मारा जाता है न तो आंख में चकमकी चमक जाती है. लगता है वन टेन का बल्ब जलकर बुता गया हो. कान में सुईंईंईंईंईंईंईं की आवाज़ आती है. एक किस्म की सम्पूर्णता का अहसास होता है. वैराग्य सा पनपता है. गालों पर उंगलियां उपट आती हैं.
5. कंटाप
कंटाप पड़ता है. कहीं पढ़ा था. कंटाप हिंसा की एक ऐसी विधा है जो गतिमान हाथ की ऊर्जा सम्पर्क में आने वाले गाल पर स्थानान्तरित करती है. गालों की धमनियों में रक्त का स्त्राव बढ़ा देती है. और ह्रदय में भय के भाव को तत्काल प्रभाव से जाग्रत करती है. पीड़ित के गालों पर कांग्रेसी चुनाव चिन्ह की लालिमा छोड़ जाती है.
6. लप्पड़
लप्पड़ ,थप्पड़ सा साउंड करे है पर थप्पड़ से भिन्न होवे है. लप्पड़ वो जो उल्टा पड़े. उल्टे हाथ से दिया जाए पर असर थप्पड़ सा करे.अगर आपने हासिल फिल्म देखी हो तो आपको वो महान संवाद जरूर याद रखना होगा ‘मारें लप्पड़ बुद्धि खुल जाए.’ साफ़ है लप्पड़ खाना दिमाग के लिए भी उत्प्रेरक का काम करता है.
7. थप्पड़
थप्पड़ को सारे देश में सहजता से स्वीकार किया गया है. हर गली, हर चौराहे कहीं भी. किसी को भी पड़ सकता है. थप्पड़ में बड़प्पन झलकता है. थप्पड़ जमाए जाते हैं. थप्पड़ की शान में सबसे बड़ी गुस्ताखी सोनाक्षी सिन्हा ने की थी जिसके बाद से ये तनी अंडररेटेड हो चला है.
8. टीप
टीप सर पर पड़ती है. याद होगा नाना पाटेकर का वो डायलॉग ‘सिर पर मत मारा करो …छोटा दिमाग होता है.’ कहते थे. वो जो करने से मना करते थे न बस वही टीप पड़ना है.
9. लाफा
लाफा में क्या है कि मोमेंटम होता है. लाफा क्रिस्प सा होता है. क्षणिक होता है पर पड़ने के बाद क्षण भर को गाल पर ठहरता है. और किसी सूदखोर के क़र्ज़ सा उतरता है.
10. चांटा
चांटा तमाचे के बाद सबसे प्रचलित शब्द है. चांटा पड़े और गाल पर तीन धारियां न दिखने लगें तो वो चांटा नही होता. चांटे के साथ दुखद पहलु ये होता है कि वो कल्लाने के साथ-साथ चन्नाता भी है.

No comments:

Post a Comment