Popads

Sunday, 31 July 2016

Mast Hindi Jokes & Chutkule ..... सुना है आपकी मुस्कान पे हर कोई मरता है

 सुना है आपकी मुस्कान पे हर कोई मरता है
.
.
जरा समय निकाल कर आना तो
.
.
एक चूहा मारना है ..
.
.
.
 मजाक की हद हो गई, गांव में लोग पुछ रहे है...
.
.
.ये पुलिस लाठी चार्ज करने के लिए चार्जर कौन
सी कंपनी का मंगवाते हैं???
.
.
.
.
 मेरा हाथ पकड़ कर वो बोली की सात जनम तक आप का साथ नहीं छोडूंगी
.
.
सामने वाली गली से अपने बाप को आते देखकर बोली की हराम जादे हाथ किसको पूछ के पकड़ा
.
.
.
.
माँ :- किसका कॉल था
.
.
Me :- दोस्त का था मम्मा
.
.
.
माँ :- नालायक एक लड़की नहीं पटी तुझसे अभी तक
.
कसम से ये बात चप्पल से भी ज़्यादा लगी...
.
.
.
.
सच्चा प्यार एक दिन लौट कर जरूर आता है …..

मेरी वाली भी आई थी …
शादी का कार्ड देने .
.
.
.
 टीचर - बताओ बच्चों चलती बस से कब उतरना चाहिए ?
छात्र - सर ! जब अस्पताल नजदीक आ जाए तो चलती बस में से उतरना चाहिए |
.
.
.
.
. लड़की-तुम मुझसे कितना प्यार करते हो
.
लड़का- अपनी जान से भी ज्यादा ।
.
लड़की- क्या तुम मेरे लिए चाँद तोड़ के ला सकते हो.....?????
.
लड़का – फिर करवा चौथ क्या तेरे बाप के टकले को देख के मनाएँगे ???? .
.
.
.
.
एडमिन ने ढाबा खोला..
ग्राहक –
मेरी चाय मै मक्खी डूब कर मरी पड़ी है |
एडमिन –
तो क्या करू?
मै ढाबा चलाऊ या इन्हे तैरना सीखाऊँ |.
.
.
.
.
.
Arj kiya Hai —->
.
1) महबूबा के प्यार में
मर गया पीटर ,
हीरो हौंडा स्प्लेंडर
80km/ प्रति लीटर
.
2) न जान न पहचान ,
तू मेरा मेहमान ,
एंड द अवार्ड गोज
टूA.R.Rehman.
.
3) किसीको ना थी ,
मेरे प्यार की खबर ,
डायग्राम गलत
हो गया , रबर दे रबर
.
4) तेरी अदाओ पे मैं
वारी वारी। ..
डायल १३९ फॉर रेलवे
Enqury.
.
5) अपने गमो को बस
दिल में दबा लो
नया गोदरेज पाउडर
हेयर डाई ,बस
काटो घोलो और
लगा लो
.
6) यूँ खामोश रह कर
तडपाओगी कब तक ?
कैमरामैन प्रफ्फुल के
साथ
दीपकचौरसिया , आज
तक !
.
7) महंगाई के इस दौर
में करना पड़ता है
अपने खर्चे पर
काबू ,
एक चुटकी सिन्दूर
की कीमत
तुमक्या जानो रमेश
बाबु ?
.
8) मैं हूँ येहाँ , तू है
वहां …
LIFEBOY है जहाँ ,
तंदुरुस्ती है वहां !
.
9) ब्लड डोनेट करने से
पहले
हमेशा उसका Group
जांचना …
बसंती इन कुत्तो के
सामने कभी मत
नाचना !
.
10) नाच मेरी बुलबुल
नाच , तुझे
पैसा मिलेगा !
हम CID से है , कोई
अपनी जगह से
नहीं हिलेगा !
.
11) खुनी ने
दिखाया बुढ़िया को चाक़ू ,
अरे क्या हुआ आनंदी के
बापू ?
.
12) कितनी बोरिंग
मूवी है आमिर
की तलाश …
दया वोह देखो , एक
और लाश
/
.
.
.

दो आदमी शराब के नशे में धुत्त होकर रेल की पटरियों के बीचों-बीच जा रहे थे....
पहला : हे भगवान, मैंने इतनी सीढ़ियां पहले कभी नहीं चढ़ीं
दूसरा: अरे सीढ़ियाँ तो ठीक हैं, मैं तो इस बात को लेकर हैरान हूं कि
हाथ से पकड़ने के लिए रेलिंग कितने नीचे लगी हुई हैं .....!!    

No comments:

Post a Comment