Popads

Friday, 8 January 2016

शादी मे (buffet) खाने में वो आनंद नहीं जो पंगत में आता था जैसे....

शादी मे (buffet) खाने में वो आनंद नहीं जो पंगत में आता था जैसे....

पहले जगह रोकना !

बिना फटे पत्तल दोनों का सिलेक्शन!

☝चप्पल जुते पर आधा ध्यान रखना...!

फिर पत्तल पे ग्लास रखकर उड़ने से रोकना!

नमक रखने वाले को जगह बताना यहां रख!

दाल सब्जी देने वाले को गाइड करना हिला के दे या तरी तरी देना!

उँगलियों के इशारे से 2 गुलाब जामुन लेना !

पूडी छाँट छाँट के गरम गरम लेना !.

पीछे वाली पंगत में झांक के देखना क्या क्या आ गया ! अपने इधर और क्या बाकी है।
जो बाकी है उसके लिए आवाज लगाना

पास वाले रीश्तेदार के पत्तल में जबरदस्ती पूडी रखवाना !

रायते वाले को दूर से आता देखकर फटाफट रायते का दोना पीना ।

 पहले वाली पंगत कितनी देर में उठेगी। उसके हिसाब से बैठने की पोजीसन बनाना।

 और आखरी में पानी वाले को खोजना।

No comments:

Post a Comment