Wednesday, 10 June 2015

गुदगुदाते मजेदार हिंदी चुटकुले

गुदगुदाते मजेदार नये हिंदी चुटकुले 


ऊपर जाने का रास्ता...
डॉक्टर प्रेमसुख अपने दोस्त घोंचू से: क्या करूं, यार? यहां पर आकर तो मेरा धंधा ही चौपट हो गया। घोंचू - इसका कारण है तुम्हारे क्लीनिक पर आने वाली सीढ़ियों पर लगी पट्टियां। प्रेमसुख ने आश्चर्य से पूछा - क्या मतलब? घोंचू - पट्टियों पर लिखा है ‘ऊपर जाने का रास्ता।’
सिर्फ एक मिनट में...
.
.
.
.

घोंचू (डॉक्टर प्रेमसुख से) - डॉक्टर साहब, एक दांत निकालने के सौ रुपए.... और वो भी आप कहते हैं कि दांत सिर्फ एक मिनट में निकाल देंगे। सिर्फ एक मिनट के काम के लिए सौ रुपए आपकी फीस तो बहुत ज्यादा है। डॉक्टर प्रेमसुख: तो ठीक है...! वहीं दांत मैं धीरे-धीरे दस घंटे में निकाल दूंगा, तब तो खुश होंगे न आप?
.
.
.

शर्म तो...
थानेदार प्रेमसुख लाल (चोर घोंचू से) - क्यों रे...! कल थाने में तूने मेरी ही जेब से पर्स मार दिया। तुझे थोड़ी भी शर्म नहीं आई? घोंचू लाल - थानेदार साब! शर्म तो आपको आनी चाहिए...., क्योंकि आपके पर्स में एक रुपया भी नहीं निकला।
.
.
.
.
ड्यूटी पर नहीं हूं
एक पुलिस इंस्पेक्टर के घर चोरी हो रही थी। पत्नी: उठो जी हमारे घर में चोरी हो रही है। इंस्पेक्टर: मुझे सोने दो मैं इस समय ड्यूटी पर नहीं हूं।
.
.
.
.

बाकी 999 कौन हैं?
पत्नी ने पति को प्रेम जताते हुए कहा आप हजारों में एक हैं। पति ने सुनकर पत्नी को एक जोरदार थप्पड़ जड़ दिया और गुस्से में बोला, बाकी के 999 कौन हैं?
.
.
.
.


1 रुपये में क्या आता है
बंता: क्या बात है तुम इतनी परेशान क्यों हो? प्रीतो: मुन्ने ने एक का सिक्का निगल लिया है। बंता: निगलने दो, आजकल एक रुपए का आता ही क्या है।
.
.
.
.

अक्ल की जरूरत
पत्नी (पति से): मुझे 50 रुपए की जरूरत है। पति (गुस्से से): तुम्हें रुपए से ज्यादा अक्ल की जरूरत है। पत्नी: आपसे वही चीज मांगी है, जो आपके पास है।
.
.
.
.

मां का प्यार
एक लड़का घर देर से लौटा। मां: कहां था? बेटा: इमोशनल फिल्म देखने गया था, ‘मां का प्यार’। मां: अब अंदर जाकर एक्शन फिल्म देख ‘बाप की मार’।
.
.
.
.

अंग्रेज़ी में पिताजी का नाम...
टीचर: राजू अपने पिताजी का नाम अंग्रेज़ी में लिखो। राजू: ब्यूटिफुल रेड अन्डरवियर। टीचर: यह क्या बदतमीजी है। राजू मासूमियत से बोला, ‘सर, मेरे पिताजी का नाम सुन्दर लाल चड्ढा है।’
.
.
.
.

बिना इंटरेस्ट का लोन...
बैंक मैनेजर: सर, हम अपने बैंक में आप को बिना इंटरेस्ट के लोन देंगे। संता: अरे भाई, जब लोन देना है तो थोड़ा हंसते-हंसते दो ना! अगर इंटरेस्ट नहीं है तो मत दो।
.
.
.
.

शेर है या कुत्ता?
संता: आपका कुत्ता तो शेर जैसा दिखता है, क्या खिलाते हो? बंता: ये शेर ही है, प्यार-व्यार के चक्कर में पड़ कर इसकी शक्ल कुत्ते जैसी हो गई है।
.
.
.
.

भिखारी फिल्म का पोस्टर देख रहा है...
एक भिखारी (दूसरे भिखारी से): अरे भाई तुम इस सिनेमा के पोस्टर को ऐसे क्यों घूर रहे हो? दूसरा भिखारी: क्योंकि इस फिल्म का मैं ही प्रड्यूसर हूं।
.
.
.
.

गिफ्ट
एक आदमी अपने पिता को जन्मदिन पर घड़ी गिफ्ट देते हुए शेर अर्ज किया, ‘फूल बहुत है पर गुलाब जैसा कोई नहीं। मेरे बाप तो बहुत है पर आप जैसा कोई नहीं।’
.
.
.
.

मिट्टी
दो दोस्त रंजीत और सोनू जंगल में घूम रहे थे। तभी एक शेर सामने आ गया। सोनू ने शेर की आंखों में मिट्टी फेंकी और भागने लगा। और दोस्त को भी भागने के लिए कहा। रंजीत− मैं क्यों भागूं, मिट्टी तो तूने फेंकी है।
.
.
.
.

शक्ल
राम− देखो! वह लड़की मेरी तरफ देखकर मुस्कुरा रही है। मोहन− यह तो कुछ भी नहीं है, जब मैंने पहली बार तुम्हारी शक्ल देखी थी, तो पूरे तीन दिन अपनी हंसी रोक नहीं पाया था।
.
.
.
.

10 बच्चों का बाप ज्यादा संतुष्ट
संता- एक आदमी के पास 10 लाख रुपए हों और दूसरे के 10 बच्चे हों, तो इनमें से कौन-सा आदमी संतुष्ट होगा? बंता- दस बच्चों वाला। संता- क्यों? बंता- क्योंकि जिसके दस बच्चे हों, हो सकता है कि वह और बच्चे न चाहता हो।
.
.
.
.

घंटी अलग से मारूं?
संता साइकल से जा रहा था। उसने एक लड़की को टक्कर मार दी। लड़की चिल्लाई: अंधे हो क्या, घंटी नहीं मार सकते थे? हड़बड़ा कर संता ने जवाब दिया: पूरी साइकल तो मार दी, अब घंटी अलग से मारूं क्या?
.
.
.
.

आम के पेड़ पर सेव खाने गया बंता
बंता पेड़ पर चढ़ा और ऊपर बैठे बंदर ने पूछा “ऊपर क्यों आये हो?” बंता: सेव खाने बंदर: पर ये तो आम का पेड़ है बंता: पता है इसलिए मैं सेव अपने साथ लाया हूं।
.
.
.
.

संता बंता की स्कूटर की सवारी
संता बंता अपने दोस्त के साथ एक ही स्कूटर पर बैठकर जा रहे थे। तभी रास्ते में एक ट्रैफिक पुलिस वाले ने संता-बंता के स्कूटर को रोक लिया। इस पर संता ने कहा- सॉरी भाईजी, पहले से ही 3 लोग बैठे हैं, बिल्कुल भी जगह नहीं है। आप कोई दूसरा स्कूटर पकड़ें।
.
.
.
.

हंसने से टूटे बंता के दांत
संता: अरे यार बंता तेरे दांत कैसे टूट गए? बंता: हंसने के कारण संता: वो कैसे बंता: अरे यार, मैं एक पहलवान को देखकर हंस पड़ा।
.
.
.
.

बंता की मरते हुए आदमी को गिफ्ट
संता: मरते हुए आदमी को हमें क्या देना चाहिए? बंता: बिरला व्हाइट सीमेंट संता: क्यों भला? बंता: क्योंकी सीमेंट में जान होती है न।
..
.
.

महंगी जगह पर ले चलो
जब कल मैं ड्यूटी करके घर लौटा, तो मेरी पत्नी ने कहा कि मुझे किसी महंगे जगह पर ले चलो। मैंने तुरंत गाड़ी निकाली और उसे पेट्रोल पंप पर ले गया।

No comments:

Post a Comment