Wednesday, 10 June 2015

मजेदार हिंदी चुटकुले, हँसना मना है , रोचक चुटकुले ,

मजेदार हिंदी चुटकुले,  हँसना मना है , रोचक चुटकुले , 


समय पर बरसात न होते देख इंद्र देवता से वर्षा के लिए प्रार्थना करने हेतु गांव के सारे लोग मंदिर के प्रांगण में इकट्ठे हुए। प्रार्थना समाप्त होने पर पुजारी महोदय ने कहा - ''बारिश के लिए प्रार्थना तो हुई ही, साथ ही यह भी मालूम हो गया कि हमें ईश्वर में कितना विश्वास है। मेरे सिवाय कोई भी छाता लेकर नहीं आया।''
.
.
.
.

एक जहाज तूफान में घिर गया। बचने के कोई आसार नहीं थे। डरकर एक आदमी प्रार्थना करने लगा - ''हे प्रभो, मैंने तेरे अधिकांश आदेशों को तोड़ा है। मैं पापी और दुराचारी रहा हूं, लेकिन अगर आज मेरी जान बच गयी तो मैं प्रतिज्ञा करता हूं कि .......''''जरा ठहरो,'' उसका दोस्त बोला, ''इतने आगे न बढ़ो, किनारा नजर आ रहा है !''
.
.
.
.

आठ साल के एक बालक ने एक दिन अपने पिता से पूछा---"पापा-पापा, कॉल-गर्ल किसे कहते हैं ?सवाल सुनकर पिताजी चकरा गये .ह्डबड़ा कर बोले--"बेटा वो........वो ऐसा है, टेलीफ़ोन के जो कॉल सेंटर होते हैं ना, उन पर काम करने वाली लड़कियों को कॉल-गर्ल कहते हैं. लेकिन ये तो बताओ तुम्हे ये अनोखा सवाल कहाँ से सूझा ?"पुत्र ने पलट कर कहा --"पिताजी, पहले आप बताइए, आप को ये अनोखा जवाब कहाँ से सूझा ?"
.
.
.
.

एक बेहद खूबसूरत औरत की मृत्यु हो गई। यमदूत जब उसे लेकर वैतरणी नदी के किनारे पहुंचा तो उसने महिला को चेतावनी दी - ''याद रहे, इस नदी को पार करते समय यदि कोई बुरा विचार तुम्हारे मन में आया तो तुम तुरंत नदी में डूब जाओगी।''
औरत अभी मझधार तक पहुंची ही थी कि पीछे से किसी के छपाक से पानी में गिरने की जोरदार आवाज आई। औरत ने पीछे मुड़कर देखा तो यमदूत नदी में डूब चुका था।
.
.
.
.

एक महिला ज्योतिषी के पास अपना भविष्य जानने पहुंची। ज्योतिषी : तीन माह बाद आपके पति का साया आपके सिर से उठ जाएगा। महिला : लेकिन उन्हें मरे हुए चार वर्ष बीत चुके हैं। ज्योतिषी : अच्छा, तो फिर आप पर आपके पिता की छत्रछाया नहीं रहेगी। महिला : उन्हें गुजरे हुए भी कई साल बीत गए हैं। ज्योतिषी : तब आप अपने बड़े भाई की छत्रछाया से वंचित हो जाएंगी। महिला : लेकिन महाराज, मैं तो अपने मां-बाप की इकलौती संतान हूं।ज्योतिषी : तो फिर आपका छाता जरूर खो जाएगा।
.
.
.
.
अध्यापक ने दूसरी कक्षा के एक बच्‍चे से कहा, मैने कल तुम्हें जो हिंन्दी मे पाठ पढाया था, उसे सुनाओ ।बच्‍चे ने कहा, टीचर आता नही है।इस पर अध्यापक ने कहा, नही आता तो ऐसा करो जो आता है वही सुनाओ ।बच्‍चे ने कहा, मुझे तो गाना आता है वही सुना दूँ ?
---------------------------------------------------------------------------------------------
मरीज़ ने एक डाक्टर से पूछा आप ने दो-दो थर्मामीटर क्यो रखें हैं? डाक्टर ने जवाब दिया, एक मुँह मे लगाने के लिए और दूसरा जेब मे ।मरीज़, मै आप का मतलब नही समझा !डाक्टर: मतलब यह कि एक थर्मामीटर मुँह मे लगाने से मुझे पता चलता है कि आप का शरीर कितना गर्म है और दूसरा जेब मे लगाने से पता चलेगा है कि आप का जेब कितना गर्म है।
----------------------------------------------------------------------------------------------
मोहन अपने दोस्त राकेश से कहता है, देखो दोस्त चुंकि हम लोकतंत्र प्रणाली पर विशवास रखते हैं इसलिए हम ने आपने घर मे सुख शान्ति बनाए रखने के लिए एक सिस्टम बनाया है । मेरे पत्‍नी वित मंत्री है। मेरे सास रक्षा मंत्री है। मेरे ससुर विदेश मंत्री है और साली लोक सम्पर्क मंत्री है।राकेश: और आप शायद प्रधान मंत्री होगे? मोहन: नही यार, मै बेचारा तो जनता हूँ ।
-----------------------------------------------------------------------------------------------
रेस्तरां मे काँफी पीते हुए कमलेश ने धीमे से प्रेम को बताया , देखो, उधर कोने वाली कुर्सी पर बैठा वह आदमी बडी देर से मुझे घूर रहा है।प्रेम: तो घूरने दो ना । प्रेम लापरवाही से बोला ।कमलेश: मै उसे जानता हँ, कबाडी है और हमेशा बेकार की चीजों मे दिलचस्पी लेता है।
-------------------------------------------------------------------------------------------
शाम ने अपने दोस्त सुरजीत से पूछा, सुरजीत भाई, अपने घर के बाहर खडे क्यो हो और यह चोटे कैसे लगी ?सुरजीत: हुआ यूं कि...। शाम: कितनी बार कहा कि लोगों से झगडा मत किया करो। कमब्खत ने मार कर तेरा बुरा हाल कर दिया। बुरा हो उस का किडे पडे उसे..।सुरजीत: बस बस मै अपनी पत्‍नी के बारे मे और गलत बातें नही सुन सकता।
----------------------------------------------------------------------------------------------
मोटा सेठ, पता नही कैसा ज़माना आ गया है , ढूंडने पर भी कोई आदमी नही मिलता। जो झूठ न बोलता हो।सुरेश, लेकिन मै एक ऐसे आदमी को जानता हूं जो कभी झूठ नही बोलता । सेठ जी, अच्छा उस नेक आदमी से मेरी बात कराओ। सुरेश, यह सभंव नही क्योकि वह गुंगा है।
-----------------------------------------------------------------------------------------------
गोरव, मैने तुम्हे जो आठनी दी थी, मैने कहा था कि इसे खर्च मत करना, किसी को दान मे दे देना। पापा, मै इसे दान मे देना चाहता था फिर ख्याल आया कि यह पुण्य मै क्यो कमाऊ ? क्यो न आईस्क्रिम वाले को कमाने दूं? सो मैने उसे दे दी, अब उस का काम है कि वह उसे दान मे दे या न दे । ---------------------------------------------------------------------------------------------
बकील ( अपराधी से) चाकू पर तुम्हारे उंगलियो के निशान पाऐ गये हैं। खून तुम् ने ही किया है। इस पर अपराधी बोला, बकील साहिब आप ऐसा कैसे कह सकते है कि चाकू पर मेरे उंगलियो के निशान पाऐ गये हैं? क्योकि खुन करते समय मैने तो दसताने पहन रखे थे!
-------------------------------------------------------------------------------------------
अध्यापक (कक्षा मे) , बच्‍चो बताओ कि दूध को खराब होने से बचाने के लिए क्या करना चाहिए?सोनू, जी उसे पी लेना चाहिए ।

No comments:

Post a Comment