Wednesday, 29 October 2014

Hindi Jokes............नई-नई शादी के बाद संता और उसकी पत्नी सब्जी लेने गए.........

नई-नई शादी के बाद संता और उसकी पत्नी सब्जी लेने गए.........
सब्जीवाला: "बाबूजी, बहू तो कान्वेंट में पढ़ी होंगी।"
संता: ( गर्व से सीना फुला कर बोला) "हां मगर कैसे पहचाना....? "
सब्जीवाला: "थैले में नीचे टमाटर और ऊपर कददू जो रख रही हैं।"
........................
बंता का फंडा-
डॉक्टर कहता है सुबह जल्दी उठो उम्र बढती है
मुर्गा सुबह जल्दी उठता है और शाम को शहीद हो जाता है?
वहम से बचो आराम से उठो....
जनहित में जारी।
.............................
कभी-कभी इंटरनेट की स्पीड इतनी धीमी चलती है कि जैसे कोई बंदा-
.
.
.
उदास मन से अपनी बीवी को मायके वापस लेने जा रहा हो।
.
.
.
.
गोपाल को हार्ट-सर्जरी के
लिए ऑपरेशन-थियेटर ले
जाया जा रहा था। अंदर जाने
से पहले उसने अपनी पत्नी से
कहा, ‘मुझे वचन दो कि अगर मुझे
कुछ हो गया तो तुम उसी डॉक्टर से शादी कर
लोगी, जो मेरा ऑपरेशन करने
जा रहा है?’ पत्नी - ऐसा क्यों कहते हो जी?
गोपाल - तो तू क्या चाहती है कि मैं उस डॉक्टर को माफ कर दूं?
.
.
.
.
लड़की : क्या कर रहे हो।
लड़का : मच्छर मार रहा हूं।
लड़की : कितने मार लिए?
लड़का : चार फीमेल तीन मेल।
लड़की : तुम्हें कैसे पता?
लड़का : चार फीमेल आईने पर बैठी थीं और तीन मेल बियर की बॉटल पर।
***
लड़की (गुस्से में) : तुम सारे मर्द एक जैसे ही क्यों होते हो?
लड़का : दरअसल हम मेकअप नहीं करते न!
***
गोलू : मैंने पिछले 20 सालों में एक बात
नोिटस की है।
सोनू : वह क्या?
गोलू : जब भी फाटक बंद होता है तब
ट्रेन जरूर आती है।
***
एक खरगोश चिड़ियाघर में बॉम्ब लेकर घुसा और चिल्लाया, ‘तुम सबके पास पांच मिनट हैं यहां से निकलने के लिए।’
कछुआ : वाह बेटा, बदला लेने आयाहै.. मैं कैसे निकलूं पांच मिनट में?
.
.
.
.
.
जब मियां-बीवी जमकर लड़ चुके तो बीवी ने पैर पटकते हुए कहा,’मैं जा रही हूं मायके और वहां जाकर तलाक के लिए मुकदमा दायर कर दूंगी, हां!'
.
.
मियां: चलो हटो! अब ऐसी झूठी-झूठी, मीठी-मीठी बातें करके रिझाने की कोशिश मत करो।
.....................................
पति-पत्नी चाय की चुस्कियों के साथ अखबार पढ़ रहे थे।
.
.
पत्नी को एक चटपटी खबर दिखी तो उसने पति से कहा, 'खबर छपी है कि एक 80 साल के कुंवारे बूढ़े ने शादी कर ली।'
.
.
पति ठंडी सांस भरते हुए बोला, 'बेचारे ने लगभग पूरी जिदंगी समझदारी दिखाई पर बुढापे में बेवकूफी कर ही दी।'
.
.
.
.
सास की बस यह एक जग प्रसिद्ध सच है
कि सभी बहुओं
को अपनी सास से
परेशानी रहती है। एक दिन
सभी बहुएं इकट्ठी हुईं
और उन्होंने फैसला किया कि वे सब अपनी सास से
माफी मांगेंगी। एक हफ्ते बाद
सभी बहुओं ने पिकनिक जाने
का कार्यक्रम बनाया, जिसमें
पूरे परिवार के साथ अपनी-
अपनी सास को भी ले गईं। सारी सास एक ही बस में
थीं जो सबसे आगे चल रही थी।
तभी रास्ते में उनकी बस
का एक्सीडेंट
हो गया और सभी सास
बुरी तरह घायल हो गईं। सारी बहुएं जोर-जोर से रोने
लगी। पर एक बहु को शायद कुछ
ज्यादा ही दुःख
हुआ क्योंकि वह जमीन पर हाथ
पटक-पटक कर रो रही थी।
सभी ने समझाया कि चिंता मत
करो सब ठीक हो जाएगा पर
वह अभी भी जोर-जोर से
चिल्ला रही थी। जब वह चुप
नहीं हुई तो एक औरत ने पूछा,
"तुम इतना ज्यादा क्यों रो रही हो,
क्या तुम्हारी सास कुछ
ज्यादा ही खास थी?’ उस
औरत ने अपने आप
को थोड़ा संभाला और
सिसकते हुए कहा, "नहीं, मेरी सास की बस छूट गई थी।’
.
.
.
.
प्रोफेसर : एक प्लेटफार्म दो किमी लंबा है। आंधी चल रही है।
60 किमी/घंटे की गति से एक ट्रैन आई
और दिल्ली से मुंबई की तरफ चली गई।
तो सवाल यह है कि मेरी उम्र
कितनी है?
सब बच्चे हैरान रह गए। थोड़ी देर बाद एक बच्चे ने हाथ उठाया।
स्टूडैंट: सर, आपकी उम्र 42 साल है।
प्रोफेसर : शाबाश। लेकिन तुमने कैसे इसकी गणना की?
स्टूडैंट: सर, हमारे घर के पास एक लड़का रहता है। वह आधा पागल है और
उसकी
उम्र 21 साल है।
.
.
.
.
छगन बहुत दु:खी था। एक दोस्त ने पूछा, 'इतने टेंशन में क्यों हो?' छगन ने जवाब दिया, 'यार एक दोस्त को प्लास्टिक सर्जरी करवाने के लिए दो लाख रुपए उधार दिए थे। अब उसको पहचान ही नहीं पा रहा हूं।'
***
सोचिए इंसान सबसे ज्यादा माफी किसके सामने मांगता है? आप सोच रहे हैं बीवी? बीवी नहीं भिखारी के सामने, "माफ करो बाबा, आगे जाओ।'
***
टिकटचेकर : अम्माजी आपका टिकट तो धीमी गाड़ी का है, तेज गाड़ी में कैसे बैठ गईं?
अम्मा: इसमेमेरी क्या गलती है, जाकर अपने ड्राइवर से कहो कि गाड़ी धीमी चलाए।
***
गोलू(मोनू से) : अगरकोई बाघ तुम्हारी सास और पत्नी पर एक साथ हमला कर दे तो तुम किसे बचाओगे?
मोनू: बेशकबाघ को, वो कम बचे हैं न!
.
.
.
.
एक कंजूस आदमी के घर मेहमान आया |

कंजूस - भाईसाहब ! ठंडा लोगे या गरम |

मेहमान - ठंडा ले लूँगा |

कंजूस - जूस या कोल्डड्रिंक

मेहमान - कोल्डड्रिंक ले लूँगा

कंजूस - स्टील के ग्लास में लोगे या काँच ग्लास में

मेहमान - काँच के ग्लास में ले आओं

कंजूस - साधारण या डिजायन वाले ग्लास में

मेहमान - (परेशान होते हुए ) अरे यार ! डिजायन वाले में ले आओं |

कंजूस - ठीक है ! कौन सी डिजायन पसंद है ? लाइन वाली या फूलों वाली ?

मेहमान - फूलों वाली

कंजूस - कौन से फूल ? गुलाब के चमेली के ?

मेहमान - गुलाब के

कंजूस - (अपनी बीबी से ) - लाजो ! जरा देखना कि गुलाब के फूलों के डिजायन वाला काँच का ग्लास अपने यहाँ है या नहीं ?

कंजूस की बीबी - नहीं है जी

कंजूस - ओ तेरी की ! नहीं है ? चल फिर कोल्ड ड्रिंक रहने दे ..... भाईसाहब को मजा नहीं आयेगा |

No comments:

Post a Comment