Friday, 19 September 2014

Jokes..................दिल के टुकड़े टुकड़े कर के मुस्कुरा के चल दिए.......

एक कंजूस आदमी के घर मेहमान आया |
कंजूस - भाईसाहब ! ठंडा लोगे या गरम |
मेहमान - ठंडा ले लूँगा |
कंजूस - जूस या कोल्डड्रिंक
मेहमान - कोल्डड्रिंक ले लूँगा
कंजूस - स्टील के ग्लास में लोगे या काँच ग्लास में
मेहमान - काँच के ग्लास में ले आओं
कंजूस - साधारण या डिजायन वाले ग्लास में
मेहमान - (परेशान होते हुए ) अरे यार ! डिजायन वाले में ले आओं |
कंजूस - ठीक है ! कौन सी डिजायन पसंद है ? लाइन वाली या फूलों वाली ?
मेहमान - फूलों वाली
कंजूस - कौन से फूल ? गुलाब के चमेली के ?
मेहमान - गुलाब के
कंजूस - (अपनी बीबी से ) - लाजो ! जरा देखना कि गुलाब के फूलों के डिजायन वाला काँच का ग्लास अपने यहाँ है या नहीं ?
कंजूस की बीबी - नहीं है जी
कंजूस - ओ तेरी की ! नहीं है ? चल फिर कोल्ड ड्रिंक रहने दे ..... भाईसाहब को मजा नहीं आयेगा |
.
.
.
.
संता (बंता से)- आज पार्टी किस खुशी में?
बंता (संता से)- मेरा स्कूटर खो गया है।
संता- तो..
बंता- शुक्र मानो मैं उस पर नही बैठा था वरना मैं भी गुम हो जाता।
.
.
.
अध्यापक (छात्र से)- भोजपुरी में अनुवाद करो ?
दिल के टुकड़े टुकड़े कर के मुस्कुरा के चल दिए.......
छात्र:- करेजवा के बुकनी बुकनी कर के दात चियार के चल देहलू
.
.
.
.
लड़का-मैं चार साल का हूं। और तुम?
लड़की- मैं भी चार साल की हूं।
लड़का- तो फिर चलें बाइक पर..
लड़की (शर्माते हुए)-कहां?
लड़का- पगली, पोलियो की ड्रॉप पीने! ..और कहां?
.
.
.
संता- ये नया मोबाइल कब लिया?
बंता- लिया नहीं.. गर्लफ्रेंड का उठाया है।
संता- क्यों?
बंता- वो रोज कहती है कि तुम मेरा फोन नही उठाते..
आज मौका देखकर उठा लिया।
.
.
.
.
Papu ke ghar sasural wale aaye, 
biwi ne kaha 'Mere ghar walo ke liye jakar bahar se kuch le aao' 
.
.
.
Papu gaya aur Taxi le aya.....
Papu rocks

No comments:

Post a Comment