Sunday, 14 September 2014

सरदार जोक्स............. Jokes in Hindi

सरदार जोक्स

एक सरदारजी उंचे पहाडपर बैठकर पढाई कर रहा था. उसे किसीने पुछा, - 

'' क्या कर रहे हो ?''

सरदारजीने जवाब दिया, '' Higher studies''
.
.
.

  
An Application for Divorce
A Sardar & his wife filed an application for divorce. 
Judge asked : How will you divide, you have 3 children?
Sardar replied : Ok! We’ll apply next year.
.
.


सवाल - सरदारजीको कन्फ्यूज कैसे करे ? 

जवाब - ...

....

जवाब - सिम्पल... उसे एक गोल कमरेमे ले जावो और एक कोनेमे बैठनेके लिए कहो.
.
.
.


सरदार पायलट
एक सरदारने अपनी हेलिकॉप्टरके पायलटकी ट्रेनिंग पुरी की. इसलिए ट्रेनिंगस्कुलने उसकी टेस्ट लेनेके लिए एक हेलिकॉप्टर उडानेके लिए दिया और उसे निचे कंट्रोलरुमसे लगातार कॉन्टॅक्टमें रहनेके लिए कहा. 

सरदार हेलिकॉप्टरमें बैठा और हेलिकॉप्टर उडाने लगा. 1000 फीट उपर जानेके बादमें उसने रेडीओपर निचे कंट्रोल रुममें मेसेज भेजा. '' चिंता करनेकी कोई जरुरत नही है .. मै अच्छी तरहसे हेलीकॉप्टर उडा पा रहा हूं... हेलीकॉप्टर उडानेमें बहुत मजा आ रहा है और उपरसे निचेका नजाराभी बहुत अच्छा दिख रहा है''

2000 फीट उपर जानेके बाद सरदारने फिरसे रेडीओपर निचे कंट्रोल रुममें मेसेज भेजा, '' 2000 फीट उंचाईपर तो और मजा आ रहा है... मुझे तो लग रहा है की हेलीकॉप्टर चलाना दुनियाकी सबसे आसान चिज होगी... ''

फीर कंट्रोल रुमने सरदारजीको 3000 फीटकी उंचाईपर जाते हूए देखा. थोडी देर बाद कंट्रोल रुमवालोंको चिंता होने लगी, क्योंकी सरदारजीका कोई मेसेज नही आया था. 

थोडी और देर बाद कंट्रोल रुमवालोंको पता चला की सरदारजीका हेलिकॉप्टर आधा मिल दुर निचे जमिनपर गिर गया है. कंट्रोल रुमसे कुछ लोग तुरंत वहा गए और उन्होने निचे जमिनपर गिरे हूए टूटे हूए हेलिकॉप्टरके ढेरसे सरदारजीको बाहर निकाला. सरदारजी को कही कही चोटे आई थी लेकिन वह बच गया था. 

जब उन लोगोंने सरदारजी से पुछा की क्या हूवा तो सरदारजीने जवाब दिया, '' क्या हूवा... मुझे कुछ पता नही... सबकुछ ठिक चल रहा था... लेकिन जब मै 3000 फिटकी उंचाईपर गया तब मुझे बहुत ठंड लगने लगी ...इसलिए मैने उपर जो बडा फॅन चल रहा था उसे बंद कर दिया... उसके बाद क्या हूवा मुझे कुछ याद नही '' 
.
.
.



सरदार मेहमान


एक सरदार अमेरिकामें अपने दोस्तके यहां मेहमान बनकर गया था. उसके दोस्तने बाहर कामपर जाते वक्त सरदारजीको, '' सामनेका दरवाजा अंदरसे बंद कर लेना, बाहर जाते वक्त दरवाजेको ताला लगाकर जाना, और कुछ प्रॉब्लेम हो तो सिधा 911 को फोन करना '' वैगेरा वैगेरा सारी हिदायतें दी. क्योंकी उस इलाकेमें चोरीयां जादा होती थी. 

सरदारजीका दोस्त शामको कामपरसे घर वापस आया और देखता है तो जो नही होना चाहिए था वही हो गया था. घरमें चोरी हो गई थी. सरदारजीका दोस्त उसपर उखड गया -

'' तुम्हे नही बताया था? बाहर जातेवक्त ताला लगाकर जा करके ''

'' कहां .. मै बाहर गयाही नही '' सरदारजीने जवाब दिया. 

'' तुम्हे नही बताया था? सामनेका दरवाजा अंदरसे बंद करके ले करके '"

'' हां मैने दरवाजा अंदरसे बंद किया था ... लेकिन चोर खिडकिसे अंदर आये ''

'' मतलब तुम्हे चोर अंदर आये यह मालूम था ?''

'' हां... मै इस कमरेमे बैठकर उनकी उस कमरेंमे चलरही सारी ठोकपीट सुन रहा था ''

'' फिर तुमने उन्हे रोका क्यो नही ?'' उसके दोस्तने पुछा. 

'' क्योकी वे चार थे और मै अकेला... और उनके पास बंदूके भी थी.''

'' मैने तुम्हे बताया नही था? अगर कोई गडबड हो तो 911 को फोन करना करके... फोन तो तुम्हारे कमरेमेंही था. ''

'' मैने प्रयास किया ना ... तुम्हारे फोनपर मुझे 9 नंबरका बटन मिला लेकिन 11 नंबरका बटन लाख ढूंढनेके बावजुद नही मिला. '' सरदारजीने कहा.
.
.
.


एकबार सरदारजीको बसने ठकक्र दिया तो सरदारजी चिच्चाने लगे:- प्लिज एम्बुलेन्सको बोला दिजिए। एक भलाद्मी बोले:- अरे सरदारजी तुम्हे जिस गड्डीने ठकक्र दिया ओ एम्बुलेन्स हि था।

No comments:

Post a Comment