Friday, 12 September 2014

Hindi Jokes................डॉ. साहब, जल्दी कुछ करो, मेरे पैरों पर एक औरत ने गाड़ी चढा दी.

मरीज:- डॉ. साहब, जल्दी कुछ करो, मेरे पैरों पर एक औरत ने गाड़ी चढा दी.
डॉ ने अच्छे से चेक किया और पाया कि मामूली चोट है पर मरीज घबराया हुआ है।
.
डॉ.:- ओ हो, भाई अॉपरेशन करना पडेगा,,, बहुत खर्चा आयेगा... तैयार हो?
मरीज:- कुछ भी करो जल्दी करो। कमीनी ने मरा सोच कर उठाया भी नही !

इतने में ही डॉ की बीवी का फोन आया..
डॉ:- हेलो ..
बीवी:- हैलो छोड़ो, ये बताओ
मैं क्या करूं? मुझसे कार चलाते में एक आदमी मर गया! जै हिंद चौक पर।

डॉ:- आदमी ने कपड़े कैसे पहन रखे थे ?
पत्नी:- हरी टी शर्ट और काली पैंट !!
डॉ:- ओ हो, तो उसे तुमने मारा है!! पुलिस खूनी को तलाश करती हुई घूंम रही है..
.

पत्नी:- तो अब क्या करूं ?
डॉ:- करना क्या है, 4-6 महीने के लिए मायके भाग जा जल्दी..
पत्नी:- ठीक है जा रही हूँ !

मरीज:- डॉ साहब करो ना कुछ।
डॉ:- भाई कोई गोली नही लग गई तेरे को! ये ले रूपये और
चार बियर ले आ, दोनो पियेंगे....
और हां, हरी टी शर्ट निकाल के जा...
.
.
.
.
पिता- बेटा, बताओ जान कहां से निकलती है?
बेटा- खिड़की से..
पिता- वो कैसे?

बेटा- कल दीदी एक लड़के से कह रही थी- जान, खिड़की से निकल जाओ।
.
.
.
.
सासू माँ का जवाब नहीं
.............................
एक औरत अपनी सास से बहुत तंग थी। उसकी सास हर काम में कुछ ना कुछ नुक्स निकालती थी।
अगर वो अंडा बॉईल करती थी तो सास कहती कि फ्राय करना था। अगर फ्राय करती तो कहती बॉईल करना था।
एक दिन सास को सबक सिखाने के लिए बहू ने दो अंडे लिए, एक को बॉईल किया और दूसरे को फ्राय कर दिया। मन में सोचा अब आएगा मज़ा।

सास थोड़ी देर दोनों अण्डों को देखती रही, फिर बोली, "बहू, ज़रा सी भी अक्ल नहीं तुझमें। जिस अंडे को बॉईल करना था उसे फ्राय कर दिया और जिसे फ्राय करना था उसे बॉईल कर दिया।"
.
.
.
.
एक अच्छी बात हो गई ज़िंदगी में;
.
. .
.. .
... .

कि पढाई पूरी हो गई... फेसबुक, whatsapp के पहले, वर्ना तो भगवान ही मालिक था।
.
.
.
.
Police: R u married?
Santa: Yes, with a woman.
Police <angrily> : Of course! Did u even hear of anyone marrying a man?
Santa: Yes, my sister did....!!!😀
.
.
.
.

--Signboard outside a..
PATHOLOGY Clinic--
For you it may be your Urine & Potty...
but 
for us, it is our Dal & Roti...!!!
.
.
.
.

One day I asked my Heart......
What is love ?
Heart Replied:
Dekh bhai apna kaam blood supply karna hai...! syllabus ke baahar ka mat pucch...... 
.
.
.
.
 Aurangazeb: Senapati, bataao hum Shivaji ko kyu Nahi dhund pa rahe hain??

Senapati: Sorry to sound pessimistic Maharaj, Par hum Mugal Hain, Google Nahi !!!
.
.
.
.
एक आदमी विदेश से एक
ऐसा कुत्ता खरीद कर लाया जो बहुत
समझदार था और सिर्फ सूंघकर
ही अपने मालिक के सगे-
सम्बन्धियों को पहचान सकता था.
घर आते ही आदमी ने कुत्ते को आदेश
दिया – “जाओ और स्कूल से मेरे
दोनों बच्चों को लेकर आओ !”
कुत्ता फ़ौरन स्कूल की तरफ दौड़
गया और काफी देर तक वापस
नहीं आया. जब बहुत ज्यादा देर हो गई
तो आदमी को चिंता होने लगी.
उसकी पत्नी हाय-तौबा करने
लगी तो वह खुद कुत्ते और अपने
बच्चों को ढूँढने के लिए घर से निकला.
तभी उसने देखा कि सामने से
कुत्ता बच्चों के एक पूरे झुण्ड को घेरे
हुए लेकर आ रहा है.
इन बच्चों में से 2 उसकी नौकरानी के,
3 उसके पड़ोसियों के, 1
उसकी साली का और 2 बच्चे
उसकी सेक्रेटरी के थे.
पत्नी फनफनाती हुई बोली –
“तो इसका मतलब ये सारे बच्चे तुम्हारे
हैं ???”
जवाब में आदमी दहाडा – “ये तो मैं बाद
में बताऊँगा पहले ये बताओ
कि कुत्ता हमारे 2 बच्चों को लेकर

क्यों नहीं आया ???”

No comments:

Post a Comment