Popads

Tuesday, 1 July 2014

शीघ्रपतन दूर करने के उपाय

शीघ्रपतन दूर करने के उपाय





* दोनों पांव के तलवे पर पानी की धार डालें कम से कम दस मिनट तक दें।

*धूप में सिद्ध किया पीली कांच की बोतल का पानी सुबह शाम दो–दो चम्मच पियें। 

*अदरक का रस6ग्राम, सफेद प्याज का रस 10ग्राम, 5ग्राम शहद, गाय का घी 3ग्राम, सबको एक साथ मिलाकर रोजाना चाटें एक मास तक इससे हर तरह की मर्दाना ताकत बढ़ती है।

*अदरक के रस में एक (half boiled egg) मिलाकर खायें यह प्रयोग रात्रि में करें। रोजाना, एक माह तक। 

* बादाम, काली मिर्च लें जरूरत अनुसार मिस्री मिलायें, सबको मिलाकर खा जायें ऊपर से एक ग्लास गरम दूध पी जायें। 

* सोठ, काली मिर्च, लौंग, जायफल, सूखा करी पत्ता इन सबको 50-50ग्राम लें पाचा कपूर5ग्राम, 10ग्राम केसर लें सबको अलग-अलग पीस मिला लें। अब केसर दूध में पीस लें। अपनी पाचन शक्ति अनुसार मात्रा में कम से कम एक माह तक लें। इससे शीघ्र पतन की शिकायत तो दूर होगी ही साथ आपकी काया भी सुंदर होगी। 

*ताल मखाने के बीज 60ग्राम लेकर अदरक के रस में भिगोयें फिर सुखायें। इस तरह तीन बार करें, फिर इसका चूर्ण बनाकर 200 ग्राम शहद में मिलाकर रख लें। इसे सुबह शाम 10-10ग्राम गाय के दूध के साथ लें यह अत्यंत लाभदायक है। 

*शतावर का चूरण लें एक तोला, मिस्री मिलें गरम दूध के साथ रोज सेवन करें। शरीर बलवाल होगा। 

*प्रतिदिन 50ग्राम गुड अवश्य खाये।

*एक चम्मच तुलसी के बीजों का चूरण, दो साबुत पान, 2रत्ती आक के फूल सबकी भस्म बनाकर पीस कें इसे रात में सोते समय एक ग्लास दूध के साथ लें। 

*तुलसी के दो पत्ते, एक चम्मच बीज, पान में रखकर चबायें।

*तुलसी के बीज का जड़ का टुकडा बराबर चूसते रहें करीब दो माह तक। 

*गाजर के रस में लहसुन की 10बूंद डालकर नित्य पियें सुबह शाम गाय का दूध पियें।

*जामुन की गुठली सूखा कर पीस लें। इसे रोजाना आधा चम्मच खाकर गाजर का रस पियें एक माह तक।

*सिंघाडे का हलुआ खाकर ऊपर से गाजर का रस पियें।

*दो तोला धुली उडद की दाल भिगाकर पीस लें। एक तोला घी आधा तोला शहद मिलाकर चाटें ऊपर से एक ग्लास मिस्री मिला दूध पियें। करीब तीन माह तक। अश्व जैसी शक्ति आ जायेगी।

*शिलाजीत की शक्ति महान है इसे दूध के साथ रोजाला सेवन करें।

*शतावर और असगंध का चूरण दूध के साथ रोजाना सें लाभ होगा 

No comments:

Post a Comment