Thursday, 15 May 2014

Hindi Hasya Poem .............पत्नी जी ने ली चुटकी ..............

देश के बदलते हालात देख
पत्नी जी ने ली चुटकी
बोली बताओ अबकी बार
किसकी बनेगी सरकार ??


हम बोले चाहे राहुल आये या मोदी
हम तो यूँ ही बनायेंगे रोटी
हम बेजुबानों की भला कौन सुनता है
हमें तो मनमोहन में ही अपना भविष्य दिखता है


कहने को पाँच साल में है सरकार बदलती
भला हम गुलामों की भी कभी तक़दीर बदलती
वोट भी तुम्हारा सरकार भी तुम्हारी
पति नामक प्रजाति बन गयी बेचारी


देश में होगा लोकतंत्र
पर यहाँ तो तुम्हारी ही तानाशाही चलती है
पति नामक मूक चलचित्र
तुम्हारे रिमोट से ही तो चला करती है


इरादा मुझे कुछ ठीक नहीं लगता तुम्हारा
लगता है लेना ही पड़ेगा बेलन का सहारा


क्यूँ घड़ी घड़ी हथियार उठाने की बात करती हो
हमारी सरकार तो सिर्फ तुम और सिर्फ तुम ही हो

इसलिये हे प्रियवर पत्नी
पिछली बार अबकी बार या अगली बार
बस तुम ही रहोगी सरकार हमारी हर बार


-------+++
प्रदीप शर्मा

No comments:

Post a Comment