Tuesday, 29 April 2014

छोटी लडकी jokes ................

एक छोटी लडकी और एक छोटा लड़का गार्डन में पेड़ को पानी दे रही टीचर को देखकर उनके पास आ गए ,
बॉय : मैडम अगर 25 साल का लड़का और 25 की लड़की को उनका अपना बेबी हो सकता हैं ?
टीचर: हाँ !
बॉय : क्या 20 साल का लड़का और इतनी ही उम्र की लड़की को भी बेबी होगा ?
टीचर : हाँ !!
ठीक हैं : अगर वे दोनों 18 साल के हुए तो ?
टीचर : हाँ, पॉसिबल हैं !!
बॉय : ठीक है, अगर लड़का और लड़की दोनों 8 साल के हो तो क्या उनका भी बेबी हो सकता है ?
टीचर : नहीं !!!

छोटे लड़के ने छोटी लड़की की तरफ देखा और कहा :- देखा, मेने कहा था ना, डरने वाली कोई बात नहीं है!!
.
.
.
.
किसी सरदार जी ने एक छोटी लडकी से शादी की क्योंकि किसी ने बताया था कि छोटी चीज की समस्यायें भी छोटी होती हैं
.
.
.
.

एक सरदार जी को यह बात कभी समझ में नहीं आयी कि कैसे उनका एक ही भाई है जबकि उनकी बहन के दो भाई हैं।
.
.
.
.

एक सरदार जी ने सडक के किनारे केले का छिलका देखा। बोल उठे,"ओह! आज फिर गिरना पडेगा।"
अगले दिन उन्होने दो छिलके देखे। सोचने लगे,"इस पर गिरूँ या उस पर?"
और उसके अगले दिन बहुत से छिलके देखे। पत्नी को फोन करके बताया,"आज घर देर से आऊँगा।"
.
.
.
.
.
अध्यापक - बच्चों तुममें से स्वर्ग कौन जाएगा ? सबने हाथ खडाकर दिया , केवल एक छोटी लडकी ने नहीं किया |
अध्यापक तुम क्यो नहीं जाना चाहती ?
लडकी - मां ने कहा है कि पाठशाला से सीधा घर नहीं आई तो टांगे तोड दूंगी |
.
.
.
.
छोटी - सी लड़की ने अपनी मां से पूछा - मम्मी , तुमने कहा था ना कि परियों के पंख होते हैं और वह उड़ सकती हैं ना ?
मम्मी - हां बेटी , कहा था।
लड़की - कल रात डैडी आया को कह रहे थे कि वह तो परी हैं। वह कब उड़ेगी मम्मी ?
मम्मी ( छोटी सी लड़की से ) - सुबह होते ही उड़ जाएगी बेटी।
.
.
.
.
बेटा- "क्या बताऊ पापा, सामने वाले मकान मे एक छोटी लडकी हर रोज़ खिडकी मे से रुमाल हिलाती है पर खिडकी का शिशा कभी नही खोलती।"

पिता- बहको मत बेटे, वह तुझे देख कर रुमाल नही हिलाती । दर असल वह इस मकान की नौकरानी है जो रोज़ खिडकी के शिशे साफ करती है।
.
.
.
..
संता एक शाम अपनी बिवी, छोटा 3 सालका लडका और छोटी 4 सालकी लडकी को लेकर एक पार्टीमें गया. संताने हालहीमें इंग्लीश स्पिपींगका कोर्स लगाया था इसलिए उसने अपनी और अपने पुरे परीवारकी पहचान सबको इंग्लीशमें कराई -

आय ऍम सरदार ऍन्ड शी इज माय सरदारनी - सरदारजीने अपनी और अपने बिवीकी पहचान कराई.

हि इज माय किड ऍन्ड शी इज माय किडनी - सरदारजीने अपने छोटे लडके और लडकीकी पहचान कराई.
.
.
.
.
एक लडका और एक छोटी लडकी होटल के रूम में बैठे थे...

लडकी: तुम लडके हो और मै लडकी..

लडका: तो?

लडकीः तुम भी अकेले हो और मैं भी..

लडकाः तो फिर?

लडकीः मैं भी हसीन हूँ और तुम भी जवान...

लडकाः तो?

लडकी: तुम्हारा खून भी गर्म है और मेरा भी...

लडका: ओ हो आगे बोलो

लडकीः तुम्हारी भी कुछ ख्वाइश है और मेरी भी..

लडकाः तो फिर?

लडकीः तुम भी शिक्षित हो और मैं भी..

लडका:तो?

लडकी: तो आओ "MODI" के साथ मिलकर भारत को भ्रष्टाचार से बचायें और कालाधन वापस लायें"


No comments:

Post a Comment