Popads

Saturday, 23 November 2013

Jokes.......................गीता ज्ञान बनाम फेसबुक ज्ञान ...................115813

नई दुल्हन के हाथ का खाना पति ने पहली बार खाया।
मिर्चे अधिक तेज थीं फिर भी वह बात बिग़ाडना नहीं चाहता था।

पति- ""खाना बहुत अच्छा बनाया है।""
पत्नी-"" लेकिन आप रो क्यों रहे हैं ? ""
पति-""खुशी के कारण।""
पत्नी-""और दूं ? ""
.
.
.
पति-""नहीं, मैं ज्यादा खुशी बर्दाश्त नहीं कर पाऊंगा।""

.
.
.
.
..
..
 नई-नई शादी के बाद तीन देशों की पत्नियां आपस में मिलती हैं।
अमेरिकन पत्नी– सुहागरात को मैंने पति से कहा झाड़ू, पोंछा, खाना पकाना, कपड़े-बर्तन धोना, ये सब मैं नहीं करूंगी। अगले दिन पति नज़र नहीं आया, दूसरे दिन पति नजर नहीं आया, तीसरे दिन इन सब कामों की मशीनों के साथ दिखाई दिया।
रूसी पत्नी – मैंने भी पति से ऐसा ही कहा। अगले दिन पति नज़र नहीं आया, दूसरे दिन पति नजर नहीं आया, तीसरे दिन इन सब कामों की नौकरानियों के साथ दिखाई दिया।
भारतीय पत्नी – मैंने भी अपने पति से ठीक ऐसे ही कहा था।
अगले दिन पति नज़र नहीं आया, दूसरे दिन भी पति नजर नहीं आया, तीसरे दिन बाईं आंख से थोड़ा-थोड़ा पति दिखना शुरू हुआ। (पति ने जमकर धुलाई की)....

.
.
.
.
..
..
 cigrette स्वास्थ के लिए हानिकारक है।
.
.
.
.
.
.
specially तब जब बाबूजी ने देख लिया हो

.
.
.
.
..
..
पप्पू: मम्मी 'लव मैरिज' करने से घरवाले नाराज होते हैं क्या?

मम्मी : तू जरूर किसी चुड़ैल के चक्कर में होगा और यह सब तुझे उसी डायन ने कहा होगा।
लड़कियां तो बस लड़कों को फंसाने में ही लगी रहती हैं।
जहां अच्छा लड़का देखा शुरू हो गईं... बेटा तू इनसे बच के रहना।
ये बहुत मक्कार और कमीनी होती हैं। और इनका तो खानदान भी.......

पप्पू: "बस मम्मी ... ऐसा कुछ नहीं है। वो तो डैडी बता रहे थे कि आप दोनों की लव मैरिज हुई थी !"

.
.
.
.
..
..
बाप-टीवी की तरफ देखते हुए..
देख..हरामखोर..देख
कितनी कम उम्र में ये सचिन कहां से कहां पहुंच गया है..
और तू..और तू..
एमबीए कम्पलीट करके टीवी पर कॉमेडी विद कपिल देख-देख
कर हंस रहा है..और रोटी तोड़ रहा है..
बेटा..
मेरे बाप गलती तुम्हारी है..
जब सचिन ने बैट उठाया था तो उसके पिताजी ने पीठ थपथपाई थी..
और जब मैंने बैट उठाया था, तब तुमने उसी बैट से मारते हुए कहा था
हरामखोर पढ़ ले तो जिंदगी बन जाएगी.

.
.
.
.
..
..
 वह लम्हा,
.
जब आप किसी शादी समारोह मेँ जाते हैँ, और दूल्हे
की माँ कहती है:
.
"बेटा, खाना खाए बिना मत जाना..!"
.
.
.
.
फिर आप मन ही मन बोलते हैँ:
.
"खाने के लिए ही तो आए हैँ...!"

.
.
.
.
..
..
 पप्पू(कॉर्ट मे) - जज साब आज तक
मेरी इतनी बेज्जती नहीँ हुई
.
जज- ऐसा क्या हो गया?
.
पप्पू- इस औरत ने मुझे नहाते हुए देख लिया
.
जज- अब तुम क्या चाहते हो?
.
पप्पृ- बदला

.
.
.
.
..
..
 Kamini Dhokebaaz Ladkiyan..
1st Girl:" Aaj Kal Ke Ladko Ka Koi
bharosa Nahi !!
Main To Ab Uski Shakal Bhi Nahi
Dekhungi..
.
.
.
2nd Girl:" Kyon Kya Hua ..?? Tumne
Usey Kisi Aur Ladki Ke Sath Dekh
Liya..???
.
.
.
.
1st Girl:" Nahi Usne Mujhe Kisi Aur
Ladke Ke Sath Dekh Liya Hai,
Jab Ki Woh Kal Bol Raha Tha Ki Woh
Out
Of City Ja Raha Hai..
.
.
.
Jhoota Dhokhebaaz
Kameena...

.
.
.
.
..
..
 
गीता ज्ञान बनाम फेसबुक ज्ञान ...................

1. क्यों व्यर्थ चिंता करते हो ? किससे व्यर्थ डरते हो ? कौन तुम्हें मार सकता है ? फेस बुक आई .डी . न पैदा होती है, न मरती है !

2. तुमने जो स्टेट्स लिखा अच्छा लिखा ! जो लिख रहे हो अच्छा लिख रहे हो ! जो लिखोगे वह भी अच्छा ही होगा ! इसी लिए इसको कोई लाइक /कमेन्ट नहीं करेगा , सब सिर्फ कॉपी पेस्ट करेंगे ! तुम भूत का पश्चाताप न करो, भविष्य की चिंता न करो I वर्तमान चल रहा है !

3. तुम्हारा क्या गया,[ फेस बुक गर्ल फ्रेंड ने छोड़ दिया ] जो तुम रोते हो ? तुम क्या लाये थे, जो तुमने खो दिया ? तुमने क्या पैदा किया था [ सब कॉपी पेस्ट ] जो नाश हो गया ? तुम कुछ न लेकर आये ! जो लिया, फेस बुक से लिया I जो दिया, फेस बुक पर दिया ! खाली हाथ आये थे, खाली हाथ जायेंगे ! जो स्टेटस आज तुम्हारा है, कल किसी और का था, परसों किसी और का होगा ! तुम इसे अपना समझ कर मग्न हो रहे हो I बस यह प्रसन्नता ही तुम्हारे दुःख का कारण है !

4. परिवर्तन संसार का नियम है ! एकपल में तुम बहुत से लाइक के स्वामी बन जाते हो और दुसरे ही पल जब तुम अपनी पोस्ट को बिना लाइक/कमेंट के देखते हो ,दरिद्र हो जाते हो ! मेरा-तेरा, छोटा-बड़ा, अपना-पराया मन से मिटा दो, विचार से हटा दो I जिस पोस्ट पर सबसे ज्यादा लाइक /कमेंट हो उसी पोस्ट पर पर अपना खूंटा जमा दो , फिर सब लाइक /कमेंट तुम्हारा है और तुम सब के हो |

5. न यह टाइम लाइन तुम्हारा है न तुम इस टाइम लाइन के हो ! यह फोटो ,स्टेटस , कमेंट , शेयर , कॉपी पेस्ट से बना है और इसी में मिल जाएगा ! परन्तु मित्रों के लाइक /कमेंट लिमिटेड है,और सिर्फ महिला मित्रों या अपरिचित महिला प्रोफाइल के लिए ही है। फिर तुम क्या हो ? तुम अपने आप को फेस बुक को अर्पित करो ! यही सबसे उत्तम सहारा है ! जो इसके सहारे को जानता है, वह भय, चिंता, शोक , से सदा मुक्त रहेगा |

6. जो कुछ भी तू करता है उसे फेस बुक को [पोस्ट ] अर्पित करता चल ! इसी से तू सदा जीवन मुक्त आनंद का अनुभव करेगा !

.
.
.
.
.
लड़का पढ़ने में ध्यान नहीं लगता था - सारे दिन फेसबुक पर बैठा चैट करता था |
परीक्षा में कम नंबर आने पर बाप ने लड़के को 4 झापड़ रसीद कर दिये |
लड़का रोने लगा तो बाप ने कहा : सॉरी - चुप हो जाओ - अब से ध्यान लगा कर पढ़ो |
लड़ने ने अपनी नोटबुक से एक पेज फाड़ा और उस कागज को अपने बाप के हाथ में दे कर बोला - इसको मुट्ठी में भींच दीजिये |
बाप ने वो कागज लिया और मुट्ठी में भींच दिया |
लड़के ने कागज को फैला कर सीधा किया और दिखा कर बोला :अब इस कागज को सॉरी बोलिए और देखिये इसकी सलवटें जाती हैं क्या ?
बाप ने स्कूटर की चाबी दे कर कहा : मेरा स्कूटर स्टार्ट करो |
लड़ने ने 1 किक मारी - स्कूटर स्टार्ट नहीं हुआ |
बाप ने आ कर ज़ोर लगा कर 4 किक मारी - स्कूटर स्टार्ट हो गया |
बाप ने लड़के से पूछा : स्कूटर स्टार्ट कैसे हुआ ? ज़ोर से 4 किक मारने से ना ?
लड़का : हाँ |

बाप : तू भी इस स्कूटर की तरह है | और आइंदा तेरा फ़ेसबुकिया ज्ञान मुझे मत देना !!!
.
.
Amazing.................Like Father, Like Son.......... 


 
 




No comments:

Post a Comment