Popads

Saturday, 14 September 2013

Humor on Hindi Day 14 September.........लेट्स सिलिब्रेट हिन्दी डे.........................97713

लेट्स सिलिब्रेट हिन्दी डे
================
आज गली गली में शोर है
एक ही नारा चहुँ ओर है
हिन्दी का जोर है, हिन्दी का जोर है
रास्ते पर एक सज्जन को रोका
आदतन उँगली करता हुआ उससे पूछा
आज क्या बात है भाई
क्यूँ कर रहें है सब हिन्दी की पगुराई

उसने कहा तुम भी बड़े गँवार हो
तुम्हारे भारतीय होने पर तरस आता है
अरे कमजर्फ क्या तुम्हे ये भी पता नहीं
चौदह सितम्बर को हिन्दी दिवस मनाया जाता है

उनके दिव्य चरणों मे निगाह जमाया
और एक निवेदन फरमाया
गुरूदेव मुझ पर कृपा दृष्टि कीजै
समारोह में हिन्दी पर मैं भी बक सकूँ
इस हेतु कुछ उम्दा लिखकर मुझे दीजै

हमें टालने की फिराक में
बड़े दार्शनिक अंदाज में
उन्होने मुझे बताया
लिखा हुआ पढ़ोगे तो फजीहत होगी
अमूल बाबा से तुम्हारी तुलना भी होगी
इस हेतु बड़ा आसान उपाय है
हिन्दी माँ और अँग्रेजी पन्ना धाय है
इस सम्बंध को मन में रखो
फिर जो जी में आये बको
उनके दिव्य ज्ञान से अभिभूत होकर
हमने जो कहा सुने उसे मौन स्तूप होकर

सम्माननीय जेंटलमेन एवं लेडिसेस
हिन्दी डे पर आप सब को बेस्टविसेश
हिन्दी हम भारतीयों की मदर लेंगुएज है
मदरलेंगुएज बिना लाईफ सीवेज है
माना आज के मेट्रोपालीटिन ईरा में
लाईफ कंजस्टेड हो गई है
छोटे से फ्लेट के कारण मदर के लिए
ओल्ड एज होम की मजबूरी हो गई है
लेकिन क्या हम एक दिन भी माँ के लिए
मदर्स डे नहीं मना सकते है
अरे माँ के मिल्कलोन का मूलधन ना सही
ब्याज तो चुका सकते हैं
चाहे साल भर पब और होटलों में
वाईफ के साथ इंज्वाय कीजिए
लेकिन कम से कम एक दिन
मदर्स डे सेलिब्रेट कीजिए
इसलिए मेरी आपसे बस एक रिक्वेस्ट है
भले ही मजबूरी में इंग्लिश साल भर यूज कीजीए
बट एटलिस्ट आज के दिन हिन्दी में बात कीजिए
और मात्तर भाषा को पूरी रिस्पेक्ट देकर
भारत देश के उपर एहसान कीजीए
अगेन आप सबको हैप्पी हिन्दी डे .. चीयर्स हिप हिप हुर्रे....
.
.
.
.
..
..
हिँदी दिवस तो शान - बान से मनाइए.. 
.
.
.
..
..
कोंग्रेस्ट्स.......फॉर हिंदी डे..... 

2 comments:

  1. हिन्दी, हिन्दी, हिन्दवी, गूँजे चारों ओर |
    हिन्दी-हिन्दुस्तान का, दुनिया भर में शोर ||
    दुनिया भर में शोर, होड़ सी मची हुई है |
    पहले पहुँचे कौन, शर्त सी लगी हुई है |
    करो नहीं तुम भूल, समझ कर इस को चिंदी |
    गूगल, माय्क्रोसोफ्ट, आज सिखलाते हिन्दी ||

    हिन्दी में ही देखिये, अपने सारे ख़्वाब |
    हिन्दी में ही सोचिये, करिये सभी हिसाब ||
    करिये सभी हिसाब, ताब है किस की प्यारे |
    ऐसा करते देख, आप को जो दुत्कारे |
    एप्लीकेशन-फॉर्म, भले न भरें हिन्दी में |
    पर अवश्य परिहास-विलाप करें हिन्दी में ||

    हिन्दी भाषा से अगर, तुम को भी हो प्रेम |
    तो फिर मेरे साथ में तुम भी लो यह नेम |
    तुम भी लो यह नेम, सभी मुमकिन हिस्सों में |
    हिन्दी इस्तेमाल - करें सौदों-किस्सों में |
    छोटी सी बस मित्र यही अपनी अभिलाषा |
    दुनिया में सिरमौर बने यह हिन्दी भाषा ||

    हिन्दुस्तानी बोलियों, को दे कर सम्मान |
    अंग्रेजी को भी मिले, कहीं-कहीं पर स्थान ||
    कहीं-कहीं पर स्थान, तभी भाषा फैलेगी |
    पब्लिक ने इंट्रेस्ट लिया, तब ही पनपेगी |
    भरी सभा के मध्य, बात कहते एलानी |
    अपनी वही ज़ुबान, जो कि है हिन्दुस्तानी ||

    हिन्दी दिवस की शुभ-कामनाओं सहित

    :- नवीन सी. चतुर्वेदी

    ReplyDelete
  2. हिन्दी दिवस पर आज वो सभी लोग अतिउत्साहित हैं जो शायद ही हिन्दी का प्रयोग अपने नित्य कार्यों और ब्यवहार में करते है। फिर भी सभी को शुभकामनाएं अपनी मातृभाषा के लिए एक दिन सुनिश्चित कर उत्सव मनाने के लिए।

    "ये वो देश है जहॉ पितरों को भी,
    बस एक दिन याद किया जाता है,
    मतलब हो जब कोई तब ही यहॉ,
    नाम भगवान का लिया जाता है,
    हिन्दी भाषा है इस राष्ट्र की,
    वो है दिनों की मोहताज नहीं,
    नासमझ वो लोग हैं जिन्हे,
    अपनी भाषा पर नाज नहीं,
    मैं सन्तान हॅू इसकी रजत,
    ये मेरी प्यारी माता है,
    जब खोली थी ना ऑखे मैंने,
    तबसे इससे नाता है।।" "रजत"

    ReplyDelete