Popads

Friday, 9 August 2013

चेन्नई एक्सप्रेसः शाहरुख के लिए धड़केगा लड़कियों का दिल.............. 86713


चेन्नई एक्सप्रेसः शाहरुख के लिए धड़केगा लड़कियों का दिल

रेटिंग: **** चार स्टार

नारियल पानी के साथ लस्सी मिक्स। शुरू से अंत तक आप देखें हिंदी फिल्म और महसूस करें साउथ को। यह है नया फ्लेवर। हीरो को जाना है गोवा और वह सवार हो जाए चेन्नई एक्सप्रेस में। बातें ऐसी कि न डबिंग की जरूरत और न सब-टाइटल्स की। कश्मीर से कन्याकुमारी तक सिनेमा की सांस्कृतिक रील में देश एकमेक हुआ जा रहा है। ये रोहित शेट्टी और शाहरुख खान का कॉकटेल है। चेन्नई एक्सप्रेस एक नया सिनेमाई अनुभव है।
बॉलीवुड के सबसे महंगे डायरेक्टर बन चुके रोहित शेट्टी से कई लोगों को शिकायत है कि वे अपनी फिल्मों में ‘गोलमाल’ और ‘बोल बच्चन’ ज्यादा करते हैं। ये लोग ‘चेन्नई एक्सप्रेस’ में देख सकते हैं कि रोहित बिना चुटकुलेबाजी के भी अच्छी फिल्म बना सकते हैं। अपने रंग-बिरंगे कैनवास पर तेज-रफ्तार उड़ती कारों के साथ। शाहरुख को हीरो लेकर भी रोहित ने अपने अंदाज को बरकरार रखा है।
वहीं शाहरुख खान के लिए यह फिल्म नया एनर्जी ड्रिंक है। वे अपने रूमानी रूप में पुराने राहुल ही लगे हैं और जब प्यार की कसमें खाते हैं तो सिनेमाहॉल में लड़कियों का दिल धक धक करने लगता है। अगर आपने ‘परदेस’ और ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ में शाहरुख को पसंद किया है तो वे आपको यहां भी अच्छे लगेंगे।
फिल्म में दीपिका पादुकोण का नाम पर्दे पर शाहरुख से पहले उभरता है। जैसे-जैसे चेन्नई एक्सप्रेस रफ्तार पकड़ती है, दीपिका अपनी साउथ इंडियन टोन के साथ दर्शकों पर छाने लगती है। उनकी ‘बोकवास’ दिल में उतरने लगती है। अपनी नायिकाओं को सम्मान देने वाले शाहरुख के अलावा कोई और हीरो फिल्म में होता तो वह दीपिका के परफॉरमेंस से घबरा कर उनके रोल पर कैंची चलवा सकता था।
दीपिका ने यहां खुद को अपनी प्रतिद्वंद्वी कैटरीना से मीलों आगे साबित किया है और बताया है कि वे अभी लंबी दूरियां तय करेंगी। कैटरीना के साथ ‘जब तक है जान’ करके शाहरुख नाकामी के जिस भंवर में फंसे थे, दीपिका ने उन्हें उससे उबार लिया है।
रही बात फिल्म की कहानी की, तो वह सीधी-सरल है। हीरो को दादा जी ने बचपन से पाला है। सौवें जन्मदिन पर सचिन तेंदुलकर को 99 पर आउट होते देख, वे दुनिया से कूच कर जाते हैं। उनकी इच्छा थी कि अस्थियां रामेश्वरम में विसर्जित की जाएं। हीरो इसी के लिए निकला है। लेकिन ट्रेन में उसे हीरोइन मिलती है, जिसे कुछ लोग किडनैप करके ले जा रहे हैं। उसे बचाने की कोशिश में हीरो भी उनके चंगुल में फंस जाता है। आखिर माजरा क्या है...?
पहले ही सीन से फिल्म कॉमिक टोन लिए हुए है। अतः किसी भी कोण से इसे गंभीर होकर देखने की कोशिश मीठे में मिर्ची तलाशने की तरह नाकाम साबित होगी। ऐसा कतई नहीं कि इस कॉमेडी को देखने के लिए दिमाग घर पर छोड़ के जाने की जरूरत है।
फिल्म में बहुत कुछ है जिसे दिमाग में दर्ज किया जा सकता है। विशाल-शेखर ने फिल्म का संगीत तैयार किया है, लेकिन हनी सिंह का अकेला लुंगी डांस उन पर भारी है। यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर शाहरुख, उनकी टीम और उनके फैंस के लिए ईद का ईनाम है। इसमें जोश है, उर्जा है, गुदगुदी है...। फिल्म में दक्षिण का चांद उत्तर के आकाश में निकला है। एक ही संदेश के साथ, लुंगी उठाओ पुंगी बजाओ।

निर्देशक: रोहित शेट्टी
निर्माता: यूटीवी-रेड चिलीज
संगीत: विशाल-शेखर
कलाकार: शाहरुख खान, दीपिका पादुकोण

चेन्नई एक्सप्रेसः शाहरुख के लिए धड़केगा लड़कियों का दिल 

रेटिंग: **** चार स्टार 

नारियल पानी के साथ लस्सी मिक्स। शुरू से अंत तक आप देखें हिंदी फिल्म और महसूस करें साउथ को। यह है नया फ्लेवर। हीरो को जाना है गोवा और वह सवार हो जाए चेन्नई एक्सप्रेस में। बातें ऐसी कि न डबिंग की जरूरत और न सब-टाइटल्स की। कश्मीर से कन्याकुमारी तक सिनेमा की सांस्कृतिक रील में देश एकमेक हुआ जा रहा है। ये रोहित शेट्टी और शाहरुख खान का कॉकटेल है। चेन्नई एक्सप्रेस एक नया सिनेमाई अनुभव है।
बॉलीवुड के सबसे महंगे डायरेक्टर बन चुके रोहित शेट्टी से कई लोगों को शिकायत है कि वे अपनी फिल्मों में ‘गोलमाल’ और ‘बोल बच्चन’ ज्यादा करते हैं। ये लोग ‘चेन्नई एक्सप्रेस’ में देख सकते हैं कि रोहित बिना चुटकुलेबाजी के भी अच्छी फिल्म बना सकते हैं। अपने रंग-बिरंगे कैनवास पर तेज-रफ्तार उड़ती कारों के साथ। शाहरुख को हीरो लेकर भी रोहित ने अपने अंदाज को बरकरार रखा है। 
वहीं शाहरुख खान के लिए यह फिल्म नया एनर्जी ड्रिंक है। वे अपने रूमानी रूप में पुराने राहुल ही लगे हैं और जब प्यार की कसमें खाते हैं तो सिनेमाहॉल में लड़कियों का दिल धक धक करने लगता है। अगर आपने ‘परदेस’ और ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ में शाहरुख को पसंद किया है तो वे आपको यहां भी अच्छे लगेंगे।
फिल्म में दीपिका पादुकोण का नाम पर्दे पर शाहरुख से पहले उभरता है। जैसे-जैसे चेन्नई एक्सप्रेस रफ्तार पकड़ती है, दीपिका अपनी साउथ इंडियन टोन के साथ दर्शकों पर छाने लगती है। उनकी ‘बोकवास’ दिल में उतरने लगती है। अपनी नायिकाओं को सम्मान देने वाले शाहरुख के अलावा कोई और हीरो फिल्म में होता तो वह दीपिका के परफॉरमेंस से घबरा कर उनके रोल पर कैंची चलवा सकता था। 
दीपिका ने यहां खुद को अपनी प्रतिद्वंद्वी कैटरीना से मीलों आगे साबित किया है और बताया है कि वे अभी लंबी दूरियां तय करेंगी। कैटरीना के साथ ‘जब तक है जान’ करके शाहरुख नाकामी के जिस भंवर में फंसे थे, दीपिका ने उन्हें उससे उबार लिया है।
रही बात फिल्म की कहानी की, तो वह सीधी-सरल है। हीरो को दादा जी ने बचपन से पाला है। सौवें जन्मदिन पर सचिन तेंदुलकर को 99 पर आउट होते देख, वे दुनिया से कूच कर जाते हैं। उनकी इच्छा थी कि अस्थियां रामेश्वरम में विसर्जित की जाएं। हीरो इसी के लिए निकला है। लेकिन ट्रेन में उसे हीरोइन मिलती है, जिसे कुछ लोग किडनैप करके ले जा रहे हैं। उसे बचाने की कोशिश में हीरो भी उनके चंगुल में फंस जाता है। आखिर माजरा क्या है...?
पहले ही सीन से फिल्म कॉमिक टोन लिए हुए है। अतः किसी भी कोण से इसे गंभीर होकर देखने की कोशिश मीठे में मिर्ची तलाशने की तरह नाकाम साबित होगी। ऐसा कतई नहीं कि इस कॉमेडी को देखने के लिए दिमाग घर पर छोड़ के जाने की जरूरत है। 
फिल्म में बहुत कुछ है जिसे दिमाग में दर्ज किया जा सकता है। विशाल-शेखर ने फिल्म का संगीत तैयार किया है, लेकिन हनी सिंह का अकेला लुंगी डांस उन पर भारी है। यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर शाहरुख, उनकी टीम और उनके फैंस के लिए ईद का ईनाम है। इसमें जोश है, उर्जा है, गुदगुदी है...। फिल्म में दक्षिण का चांद उत्तर के आकाश में निकला है। एक ही संदेश के साथ, लुंगी उठाओ पुंगी बजाओ।

निर्देशक: रोहित शेट्टी
निर्माता:  यूटीवी-रेड चिलीज
संगीत: विशाल-शेखर
कलाकार: शाहरुख खान, दीपिका पादुकोण

1 comment:

  1. 'चेन्नई एक्सप्रेस' ने पहले दिन ही तोड़ डाले सारे रिकॉर्ड !

    शाहरुख खान और दीपिका पादुकोण की फिल्म 'चेन्नई एक्सप्रेस' ने फिल्म से पहले और फिल्म के एक पहले दिन ही बॉक्स ऑफिस के अब तक के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए।
    'चेन्नई एक्सप्रेस' की गाड़ी इतनी तेज भागी की '3 इडियट्स', 'एक था टाइगर', 'भाग मिल्खा भाग' इन सभी को पीछे छोड़ दिया। शुक्रवार को चेन्नई एक्सप्रेस ने 33.12 करोड़ रुपये कमाए। ये आंकड़ां आज तक किसी और फिल्म ने नहीं छुआ। इससे पहले सलमान खान की 'एक था टाइगर' ने पहले दिन 32.93 करोड़ रुपये कमाए थे।
    गौरतलब है कि 'चेन्नई एक्सप्रेस' ने रिलीज होने से पहले ही एक रिकॉर्ड बना डाला था। 'चेन्नई एक्सप्रेस' पेड प्रीव्यू से बॉलीवुड की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म बन गई है। गुरुवार को किए गए पेड प्रीव्यू में इस फिल्म ने 6.75 करोड़ रुपये कमाए। इससे पहले यह रिकॉर्ड आमिर खान की फिल्म '3 इडियट्स' के नाम था, जिसने पेड प्रीव्यू से 2.75 करोड़ रुपये कमाए थे।
    भारत ही नहीं, विदेशों में भी 'चेन्नई एक्सप्रेस' का पेड प्रीव्यू फिल्म के लिए बढि़या कलेक्शन लेकर आया। ब्रिटेन में पेड प्रीव्यू के लिए सिर्फ रात का शो रखा गया था और वहां 'चेन्नई एक्सप्रेस' ने 1.42 लाख यूरो कमाकर 'माई नेम इज खान', 'कभी अलविदा न कहना', '3 इडियट्स' और 'एक था टाइगर' का रिकॉर्ड तोड़ दिया। ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में भी फिल्म ने पेड प्रीव्यू से अच्छी कमाई की।
    वैसे पेड प्रीव्यू की बढि़या कलेक्शन फिल्म की सफलता की गारंटी नहीं देती। रितिक रोशन की 'काइट्स' इसका बढि़या उदाहरण है, जिसने पेड प्रीव्यू से 1.75 करोड़ रुपये कमाए थे, लेकिन बाद में फिल्म नहीं चली।

    ReplyDelete