Saturday, 30 April 2016

Jokes .......... कन्हैया_कॉलिंग........

कन्हैया_कॉलिंग........
.
"हेल्लो माई .. परनाम.. कन्हैया बोला तानी "
"हाँ बिटवा.. खुश रहो.. जुग-जुग जीयो.. दूध भात खाओ "
"कइसन हो माई ?"
"एकदम बढ़िया है बिटवा .. आपन बताओ"
"हम भी एकदम मस्त है माई.. अच्छा माई सुनो अभी न हम बम्बई जा रहे है अउर उ भी एरोप्लेन से !"
"का बात कर रहा है बिटवा ... इरोपिलेन से बम्बई जा रहा है ?? "
"हाँ माई .. ऐरोप्लेन से ".
"हम तो कभू इरोपिलेन देखे नाही है बिटवा.. पर एक बार नितीसवा आया रहा भोट का प्रचार करने हलीकोप्टर से.. तो हलीकोप्टरवा के आवाज सुन के न हम दौड़ भागे थे हलीकोप्टरवा को देखने के लिए... और उस टेम पता है तुमको.. हम न उस टेम तुमरे बाउजी के लिए उनखर फेबरेट परवल का सब्जी बना रहे थे.. कढ़हिये में छोड़ के भाग गई थी.. सब परवल का सब्जी जल गया रहा था.. बाद में तुमरे बाउजी ने खूब कलास लगाया था हमारा .. हाँ .. !!! अच्छा ई इरोपिलेन हलीकोप्टरवा से अलग होवे है का ? "
"हाँ माई .. ओकर से ई एकदम अलग होवे ला.. हलीकोप्टरवा में तो जादा से जादा 10 आदमी बैठ सकेला.. लेकिन ई एरोप्लेन में तो150-200 आदमी बैठ सकेला। "
"बाप रे ऐतना बड़ा ?? !!"
"हाँ माई ऐतना बड़ा होवे ला.. अच्छा माई जे फोनवा से अभी हम बात कर रहे है न.. उ फोनवा एप्पल का है !"
"ई कउन फोन हवे है रे बिटवा ?? हम ता खाली नोकिया फोन जानत है।".
"नोकिया फोन तो गरीब लोगन के फोन हवे है माई.. ई फोनवा तो पूरा दुनिया के सबसे रहिस-रहिस आदमी चलावत हैं... छोट-मोट आदमी के बस के बात न हो ई फोनवा के चलावे ला ".
"अच्छा .. अच्छा.. तो ई अइसन फोन हवे है.. अरे कितना में ख़रीदा रे ई फोनवा के ??"
"जादा नाही माई.. यही कोई 50,000 रूपिया के आस-पास लगा है"
"पचाआस्स्सस्सस्स हज़ाआररर !!! ... हायगे बप्पा.. एतना महंगा मोबाइल.. एकर में हीरा-मोती जड़ल है का रे ??"
"ऐ माई .. अइसन काहे रियेक्ट कर रही हो .. पचासे हज़ार रूपिया लिया है.. जादा नाही कि ऐसे रियेक्ट कर रही हो .. दू महीना बाद जब एक लाख का फोनवा खरीदेंगे तो कैसे रियेक्ट करोगी ? .. अब आदत डाल लो ई सब सुनने का.. कि तुमरा बिटवा आज ऐरोप्लेन से बम्बई जा रहा है.. कल गोआ जा रहा है.. परसो कलकत्ता जा रहा है.. नरसो पटियाला जा रहा है.. और आज 50 हज़ार का फोन ख़रीदा हैं तो कल 1 लाख खरीदेगा . परसो डेढ़ लाख का खरीदेगा. !! ई सब का अब आदत डाल लो माई .. ।".
"अच्छा .. अच्छा .. बिटवा ठीक है.. हमरा बिटवा दुई महीना में इतना तरक्की कर गया हमको पता नाही चला था बउआ... अउर तरक्की करो.. अउर नाम कमाओ... ।। अउर हाँ... एक बात सुनो.. जब एतना पैसा आइये गिया है.. कमाये रहा है.. तो हमको भी कुछ भेज दिया करो न बिटवा.. 3,000 रुपिया में घर का गुजारा नाही हो पाता है ।"
"अरे नाही माई.. हम अभी आपको एको पैसा नाही भेज सकत है... आपके 3,000 रुपिया के बदौलत ही तो हमें ये ऐशोआराम, फेम, महंगा फोन आदि सब मिल रहा है.. आप जिस दिन 30,000 कमाने लगी ये सब अपे-आप छीन जाएगा माई.. तो आप न माई.. 3,000 रूपया ही कमाती रहो.. मैं लाखों में खेलता रहूँगा।".